केंद्र सरकार पिछले कुछ समय से निर्यात को बढ़ावा देने पर काफी जोर दे रही है  

देश को आत्मनिर्भर बनाने से लेकर अर्थव्यवस्था को तेज रफ्तार प्रदान करने के लिए निर्यात का बढ़ना जरूरी है.  

सरकारी आंकड़ों के अनुसार, भारत ने फाइनेंशियल ईयर 2021-22 के दौरान दुनिया को 422.2 बिलियन डॉलर के सामानों व सेवाओं का निर्यात किया.  

 किसी भी एक फाइनेंशियल ईयर में भारत का अब तक का सबसे ज्यादा निर्यात है. 

सीएमआईई इकोनॉमिक आउटलुक के आंकड़ों के अनुसार, भारत ने इस दौरान सबसे ज्यादा इंजीनियरिंग से संबंधित सामानों का निर्यात किया.

दुनिया की सबसे बड़ी इकोनॉमी वाले देश अमेरिका को भारत ने इस दौरान सबसे ज्यादा 16.2 बिलियन डॉलर के इंजीनियरिंग सामानों का निर्यात किया.  

पिछले फाइनेंशियल ईयर के दौरान संयुक्त अरब अमीरात भारत के लिए दूसरा सबसे बड़ा निर्यात डेस्टिनेशन रहा. भारत ने इस देश को 28.1 बिलियन डॉलर का निर्यात किया

पिछले फाइनेंशियल ईयर के दौरान भारत ने चीन को 21.2 बिलियन डॉलर का निर्यात किया.  

बांग्लादेश चावल से लेकर गेहूं जैसे अनाजों के लिए भारत पर काफी निर्भर करता है. इस कारण 2021-22 के दौरान भारतीय सामानों का निर्यात करने के मामले में बांग्लादेश चौथे पायदान पर रहा.

नीदरलैंड भारत के लिए टॉप एक्सपोर्ट डेस्टिनेंशंस में एक बनकर उभरा है और पिछले फाइनेंशियल ईयर के दौरान 5वें स्थान पर रहा. भारत ने इस देश को 12.6 बिलियन डॉलर का निर्यात किया