Sarjana Yadav IAS अधिकारी हैं जिन्होंने बिना किसी कोचिंग का सहारा लिए और नौकरी के साथ यूपीएससी परीक्षा की तैयारी की. 

आज के दौर में अधिकांश यूपीएससी की तैयारी करने वाले उम्मीदवार कोचिंग क्लासेस पर भरोसा करते हैं

सर्जना यादव 2019 में सिविल सेवा परीक्षा में पूरे भारत में 126 रैंक हासिल करके आईएएस अधिकारी बनीं थी. 

सर्जना यादव ने तीसरे प्रयास में सफलता हासिल की थी.

एक इंटरव्यू में सर्जना ने कहा कि यह उम्मीदवार की इच्छा पर निर्भर करता है कि वह कोचिंग लेना चाहता है या नहीं.

सर्जना यादव ने दिल्ली टेक्नोलॉजिकल यूनिवर्सिटी से इंजीनियरिंग में ग्रेजुएशन पूरा किया.

 ग्रेजुएशन के बाद सर्जना यादव ने TRAI में रिसर्च ऑफिसर के तौर पर काम करना शुरू किया.

 अपनी फुल टाइम जॉब के साथ, सर्जना यूपीएससी परीक्षा की तैयारी करती थीं. 

पहले दो प्रयासों में असफल  होने के बाद भी उन्होंने हार नहीं मानी बल्कि फिर से प्रयास करने का निर्णय लिया और इस बार वे सफल रहीं.