कॉमनवेल्थ गेम्स में ऐसा प्रतीत हो रहा है कि यह भारतीय महिला क्रिकेट का एक नया दौर है

टीम में अब मिताली राज और झूलन गोस्वामी नहीं है

पिछले 25 सालों से यह मिताली और झूलन की जोड़ी भारतीय महिला क्रिकेट का पर्याय रही है

1997 में मिताली 14 साल की थीं, जब उन्हें घरेलू धरती पर भारत के 50 ओवरों की वर्ल्ड कप टीम में चुना गया था

उसी संस्करण में झूलन ईडन गार्डन्स में उस ऑस्ट्रेलिया Vs इंग्लैंड फाइनल में एक बॉल गर्ल थीं

भारतीय टीम कॉमनवेल्थ गेम्स के अपने डेब्यू मैच में झूलन और मिताली के बिना पहला मैच खेलेगी

झूलन ने 2018 में टी20 से संन्यास ले लिया था और मिताली ने भी 2019 में इस प्रारूप को अलविदा कह दिया था

लम्बे समय तक मिताली और झूलन ने टीम में काफी योगदान किया है।